Skip to main content

पढ़ाई की लत-मोटिवेशनल



  • मोटिवेशनल-लाइन 
  • यार पढाई में मन नही लग रहा। 
  • जब भी पढ़ने बैठता हूँ नींद आने लगते है। 
  • ऐसा फील होता है की में पढाई के बंधन में बंध के अपनी जवानी बेकार कर रहा हूँ । 
  • मोबाइल चलने का मन कर रहा है। 
  • चैटिंग करने का मन करता है। 
  • दोस्तों के साथ गप्पे लड़ाने का मन करता है। 
  • हर पल यही सोचता रहता हूँ की पढाई किसने बनाई। 
यही सोचता हूँ की टॉप करनेवाले स्टूडेंट कैसे पढ़ते होंगे। वह कैसे ले आते  है इतने मार्क्स उनकी मेमोरी इतनी शार्प क्यों होती है। क्यों कोई स्टूडेंट एग्जाम में 9 9 % ले आते  है ,जबकि तुम्हे लगता है, तुम बहुत पढ़ते हो और फिर भी तुम्हारे मार्क्स बहुत कम आते  है। ऐसा क्या होता है जो एक टोपर को तुमसे अलग बनता है ,इसका जवाब मुझे आप से चाहिए ऐसा क्या जो किसी और के पास है और आप के पास नहीं ऐसा कोनसा काम है। जो एक टोपर कर सकता है और आप नही कर सकते ऐसा क्या है जो उसको जन्म से मिला है और आप को नहीं ये सोचा कभी आप ने अगर गहराई से सोचने बैठेंगे तो बहुत जवाब मिलेगा।


सबसे पहले तो आप में और एक टोपर में बायोलॉजिकली कोई फर्क नही होता है। आपके शारारिक अंग उसी तरह से काम करते है जैसे उनके करते है ,आपकी आँखे 2 को 2 पढ़ती है और 8 को 8 आप भी सोते हो और एक टोपर भी सोता है। आप भी मोबाइल यूज़ करते है और वो भी उसके पास भी वही सिलबस है ,टाइम है ,मौसम है। और आप के ही तरह अंधेरे में ना पढ़ पाने वाली आँखे है। तो फिर फर्क किस चीज़ का है,फर्क बहुत कम है एक फर्क है टाइम और प्रिऑरिटीज़ का।एक टोपर को होता है की कौनसी चीज़ को कौन से काम को कब और कितना टाइम देना है। जैसे मुझे पता है मोबाइल उसे करने से में अपने काम से डिस्ट्रक्ट हो जाऊँगा तो में उस जरुरी  काम को पहले निपटाऊंगा और मोबाइल के मैसेज को बाद में चेक करूँगा कही कोई आग नही लग रहीं है। आप के सपने सबसे पहले है। और दूसरा क्या है जो एक टोपर को आपसे अलग करता है आपका मकसद सिर्फ पढ़ना होता है रटना होता है,मार्क्स लाना होता है। जबकि एक टोपर का मकसद सिर्फ पढ़ना कभी नही होता है। उसका मकसद कुछ और होता है,पढाई तो सिर्फ एक माधयम होता है। जो उसको उसकी मंज़िल तक पहुँचने के लायक बनता है। इसलिए उसको पढ़ते समय नींद नही आती है क्युकी उसको पता होता है की वो सिर्फ पढ़ने के लिए नही पढ़ रहा है। बल्कि कोई बड़ा काम करने के लिए अपना नाम करने के लिए पढ़ रहा है और यही बात उसको ताकत देती है। और क्या फर्क होता है एक टोपर और एक एवरेज स्टूडेंट में टोपर कभी भी रटता नही है वो चीजों को कॉन्सेप्ट को समझता है। उनको प्रैक्टिकल में वो अप्लाई करता है इसलिए वो उनको भूलता नही है। जो आपके ऊपर पंखा चल रहा है कभी आपने बिजली काटने के बाद ये नोटिस किया है। की वो कितने सेकंड बाद रुकता है और उससे फिर ये जानने की कोशिश की है की अगर उसको रेगुलेटर से आधी स्पीड पर चलते हुये रोकेंगे , कितने सेकंड में रुकेगी ?क्या आपने कभी ये जानने की कोशिश के है कि जो टुबेलाइट आपके रूम में लगी है वो एक सेकंड में कितने बार फिलीक करते है?वो एक घंटे में कितने यूनिट निकालती है? अगर पता किया होगा तो एग्जाम में कभी पावर कोन्सुम्प्शन  आंसर कभी गलत नही होगा। यही फर्क है  एक एवरेज स्टूडेंट और एक टोपर स्टूडेंट में जो ज़िन्दगी के किसी मकसद के लिए पढता है। क्युकी राटा हुवा ज्ञान तो अगली क्लास में जाते ही गायब हो जायेगा लेकिन सीखा हुआ कॉन्सेप्ट ज़िन्दगी में बहुत बार काम आता है। और याद रखना हर वो रात जिसकी नींद आपने पढाई के लिए कुर्बान कर दी थी वो अपना क़र्ज़ जरूर चुकायेगी थोड़ा धैर्य रखो मेहनत पर विश्वास रखो आपकी जीत होने वाली है। 


(नोट:-दोस्तों अगर येब्लॉग पढ़ के आपको अच्छा लगे तो कमेंट और शेयर जरूर करे )








                                                                   

Comments

Post a comment

Popular posts from this blog

समय बर्बाद करने से कैसे बचे.

नमस्कर दोस्तों आज में एक बहुत हे जरुरी टॉपिक पे  बात करने जा रहा हु जो है की आप अपना टाइम बर्बाद करने से कैसे बचे तो आइये जानते है की इस से कैसे बचा जा सकता है


1 . योजना बनाये सबसे पहले आप अपने पुरे दिन का लिस्ट बना ले जब आपकी लिस्ट तैयार हो जाये ,तो आप अपनी लिस्ट को चार भागो में बाट ले जो की इस प्रकार की होगी ➥सुबह का समय ➥ दोपहर का समय ➥शाम का समय ➥रात का समय 
जो काम आपको सुबह करनी है उसे सुबह वाले  पार्ट में रखना है ,जो काम दोपहर में करना है उसको दोपहर वाले पार्ट में रखना है ,जो काम शाम में करना उसको शाम वाले पार्ट में रखना है ,और जो काम रात में करना है उसको रात वाले पार्ट में रखना है ऐसे करने से आप को कब क्या करना है उसका पता चलगा।
(नोट:-आप अपना प्लानिंग के हिसाब अपना टाईमटेबल बनाये और उसी के अनुशार चले/काम करे)
एक इंसान अपनी ज़िंदगी का 30% समय बर्बाद करने में निकाल देता है। 5 % बड़े - बड़े सपने देखने में निकाल देता है। 1 7 % अपने गलतियों के बारे में सोच कर निकल देता ह

2. प्लानिंग करे  समय के साथ हर चीज़ बदलती है। हमारी डेली लाइफ में कुछ न कुछ बदलव आ जाते है हम काम कुछ और सोचते है और …

पढ़ाई में मन लगाने के तरीके – पढने में मन कैसे लगायें? बेहतरीन उपाय

"हेलो दोस्तों"आज हम बात करने वाले है की आपका पढाई में मन कैसे लगे /पढाई में मन कैसे लगाए तो आज हम इसी टॉपिक पे बात करने वाले है जिसमे में आपको  10  ऐसे तरीके बताने वाला हु जिससे आप का पढाई में मान लगे।                                                                                                                                                                 

                         विद्यार्थी पढ़ाई में ध्यान क्यों नहीं लगा पाते है?            आज के इस समय का सबसे बड़ा कारन है मन का विचलित होना। जिसका कारन है मोबाइल गेम,  ,सोशलमीडिए ,टीवी ,शोर सराबा,दोस्त, परिवार आदि। आपके साथ कुछ न कुछ ऐसा होता होगा जिससे आप का मन विचलित हो जाता होगा। आप के साथ ऐसा जरूर हुआ  होगा की आप कुछ महत्पूर्ण काम कर रहे होंगे उसी बीच आप के मोबाइल पे कोई मैसेज आ गया होगा और आप उसको देखने क लिए गये होंगे और उसके चक्कर में आप का एक-दो घंटे चैट करने में चला गया होगा।

⧭पढ़ाई में ध्यान कैसे लगायें? 10  ज़बरदस्त मूल मंत्र तो आइये जानते है वह कौन सा बेह…

इम्युनिटी पावर कैसे बढ़ाये | रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ाने के उपाय भारतीय नुस्खा उपाय | "

❤हेलो दोस्तों ❤ आज मै बात करनेवाला हूँ कि आप अपना इम्युनिटी पावर कैसे बढ़ाये जैसे की हमसब जानते है की इस समय पूरी दुनिया कोरना वायरस से जूझ रही है!और इस समय हम सब को  बहुत ही सम्हल के रहने की जरूत है और अपने  सेहत का अच्छे से ख्याल भी रखना है!इसी विषय पे बात  करने जा रहे है ,की किस तरह हम सब अपने घर के आम चीजो से  अपना इम्युनिटी पावर बढ़ा सकते है वो क्या क्या चीज़े है

1-अजवाइन - Carom seeds 2-दालचीनी - Cinnamon3-लौंग - Clove 4-तुलसी का पत्ता - Basil leaves 5-अदरक - Ginger 6-काली मिर्च - Black pepper

जो भी सामग्री ऊपर मै दिया गया है अब ➤जानते है की इनसब से इम्युनिटी पावर कैसे बढ़ाये तो बिना देर किये आगे बढ़ते है और जानते है इनसब से कैसे अपना सेहत का ख्याल रख सकते है  ➤इन सभी सामग्री को साथ मै बारीक़ करके कुट ले और सब को एक साथ पानी मे उबाल ले लेकिन आप को धयान रखने की जरूत इस बात की है ,आप को पानी को  तब तक उबालना है जब तक की जितना पानी आप ने डाला था उसका आधा पानी बचे तभी इस काढ़े का अशर अच्छे  से  होगा तो इस बात का धयान अवस्य  रखे की पानी को ज़ादा से ज़ादा उबाले ताकि सभी चीज़े अच्छे से पानी मे…